Ashneer Grover Launched Zeropay App Users Can Pay Medical Bills अशनीर ग्रोवर ने लॉन्च किया जीरोपे ऐप, यूजर्स कर सकेंगे मेडिकल बिल का भुगतान #Storiesviewforall

Ashneer Grover Launched Zeropay App Users Can Pay Medical Bills अशनीर ग्रोवर ने लॉन्च किया जीरोपे ऐप, यूजर्स कर सकेंगे मेडिकल बिल का भुगतान #Storiesviewforall

फिनटेक क्षेत्र में नवाचार की एक नई लहर के रूप में, भारतपे के सह-संस्थापक अश्नीर ग्रोवर ने चिकित्सा बिलों के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए एक नए फिनटेक ऐप ‘ज़ीरोपे’ की शुरुआत की है। यह उद्यम न केवल उपभोक्ताओं को त्वरित वित्तीय सहायता प्रदान करता है, बल्कि यह भी दर्शाता है कि कैसे डिजिटल नवाचार चिकित्सा क्षेत्र में वित्तीय बोझ को कम कर सकते हैं। ‘ज़ीरोपे’ के माध्यम से, ग्रोवर और उनकी टीम ने उपचार प्राप्त करने की आवश्यकता वाले व्यक्तियों के लिए आसान और सुलभ वित्तीय समाधान प्रस्तुत किया है, जो कि आधुनिक भारत में एक महत्वपूर्ण कदम है।

Zero Pe App

विशेषता विवरण
संस्थापक अश्नीर ग्रोवर, असीम घावरी
कंपनी थर्ड यूनिकॉर्न
उद्योग फिनटेक, स्वास्थ्य वित्तपोषण
प्राथमिक सेवा तत्काल पूर्व-अनुमोदित मेडिकल ऋण प्रदान करना
ऋण राशि 5 लाख रुपये तक
लक्षित ग्राहक आपातकालीन मेडिकल वित्तपोषण की आवश्यकता वाले व्यक्ति
साझेदार संस्थान मुकुट फिनवेस्ट (एनबीएफसी) और संबद्ध अस्पताल
ऐप की उपलब्धता वर्तमान में परीक्षण चरण में, गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध

ज़ीरोपे क्या है?

ज़ीरोपे एक नवीन फिनटेक ऐप है, जिसे भारतपे के सह-संस्थापक अश्नीर ग्रोवर ने लॉन्च किया है। यह ऐप मुख्यतः चिकित्सा उपचार के लिए आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान करने पर केंद्रित है। ज़ीरोपे का मुख्य उद्देश्य मेडिकल आपातकाल के समय मरीजों को तत्काल वित्तीय सहायता उपलब्ध कराना है। यह ऐप उपयोगकर्ताओं को 5 लाख रुपये तक के तत्काल पूर्व-अनुमोदित मेडिकल लोन प्रदान करता है।

ज़ीरोपे कैसे काम करेगा?

  1. पार्टनर अस्पतालों में उपलब्धता: ज़ीरोपे ऐप की सुविधाएं केवल उन अस्पतालों में उपलब्ध होंगी जो इसके साथ साझेदारी में हैं। यह सुनिश्चित करता है कि लोन की प्रक्रिया सुगम और विश्वसनीय हो।
  2. त्वरित पूर्व-अनुमोदित लोन: ज़ीरोपे तत्काल पूर्व-अनुमोदित लोन प्रदान करता है जिससे उपयोगकर्ताओं को मेडिकल आपातकाल में तत्काल सहायता मिल सके।
  3. सहज आवेदन प्रक्रिया: ज़ीरोपे ऐप का इंटरफेस उपयोग में आसान है, जिससे उपयोगकर्ता आसानी से लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। ऐप उपयोगकर्ताओं को आवेदन करते समय जरूरी जानकारी प्रदान करता है और त्वरित स्वीकृति प्रदान करता है।
  4. मुकुट फिनवेस्ट के साथ साझेदारी: ज़ीरोपे ने दिल्ली स्थित नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी मुकुट फिनवेस्ट के साथ साझेदारी की है, जो कि लोन प्रदान करने की प्रक्रिया को और अधिक सुरक्षित और विश्वसनीय बनाता है।

इस प्रकार, ज़ीरोपे चिकित्सा खर्चों के लिए आपातकालीन वित्तीय सहायता प्रदान करने का एक कारगर समाधान है, जिससे उपभोक्ताओं को उनके कठिन समय में मदद मिल सकती है।

ज़ीरोपे के सह-संस्थापक

ज़ीरोपे के सह-संस्थापक हैं अश्नीर ग्रोवर और असीम घावरी। अश्नीर ग्रोवर इससे पहले भारतपे के सह-संस्थापक और प्रबंध निदेशक थे, और उन्होंने ज़ीरोपे की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। असीम घावरी, जो कि एक उद्यमी हैं और पहले कोड ब्रू लैब्स के संचालक रह चुके हैं, उन्होंने भी ज़ीरोपे की स्थापना में अश्नीर ग्रोवर के साथ मिलकर काम किया है।

थर्ड यूनिकॉर्न का परिचय

थर्ड यूनिकॉर्न एक नवीनतम स्टार्टअप है जिसकी स्थापना अश्नीर ग्रोवर, उनकी पत्नी माधुरी जैन ग्रोवर, और चंडीगढ़ के उद्यमी असीम घावरी ने की है। यह कंपनी विभिन्न तकनीकी समाधानों और ऐप्स का विकास करती है जो बाजार में नवाचार और उपभोक्ता सुविधा लाने का प्रयास करते हैं।

कंपनी की शुरुआती परियोजनाएं:

  1. क्रिकपे (CrickPe) – थर्ड यूनिकॉर्न की पहली परियोजना क्रिकपे एक फैंटसी क्रिकेट ऐप है, जिसे भारत में फैंटसी स्पोर्ट्स के बढ़ते बाजार को ध्यान में रखते हुए विकसित किया गया था। यह ऐप उपयोगकर्ताओं को क्रिकेट मैचों पर अपनी टीमें बनाने और विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने की सुविधा प्रदान करता है।
  2. ज़ीरोपे (ZeroPe) – इसके बाद कंपनी ने ज़ीरोपे लॉन्च किया, जो एक फिनटेक ऐप है जिसका उद्देश्य मेडिकल आपातकाल के दौरान उपभोक्ताओं को तत्काल वित्तीय सहायता प्रदान करना है। यह ऐप 5 लाख रुपये तक के तत्काल पूर्व-अनुमोदित चिकित्सा ऋण प्रदान करता है।

 ज़ीरोपे की विशेषताएं और सेवाएँ

ज़ीरोपे एक अभिनव फिनटेक ऐप है जो मेडिकल उपचार और आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करता है। इस ऐप की मुख्य विशेषताएं और सेवाएं इस प्रकार हैं:

1. तत्काल पूर्व-अनुमोदित ऋण: ज़ीरोपे उपभोक्ताओं को 5 लाख रुपये तक के तत्काल पूर्व-अनुमोदित मेडिकल ऋण प्रदान करता है। यह सुविधा उपभोक्ताओं को मेडिकल आपातकाल के समय तुरंत वित्तीय सहायता प्राप्त करने में मदद करती है।

2. पार्टनर अस्पतालों में उपलब्धता: ज़ीरोपे की सेवाएं केवल उसके साझेदार अस्पतालों में उपलब्ध हैं, जिससे सुनिश्चित होता है कि ऋण सेवाएं विश्वसनीय और सुगम हों। यह व्यवस्था उपभोक्ताओं को उचित और मान्यता प्राप्त स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं से तुरंत सहायता सुनिश्चित करती है।

3. सहज और उपयोग में आसान ऐप इंटरफेस: ज़ीरोपे ऐप का इंटरफेस उपयोग में आसान है, जिससे उपभोक्ता बिना किसी परेशानी के ऋण आवेदन कर सकते हैं। ऐप त्वरित और स्पष्ट निर्देश प्रदान करता है, जिससे उपभोक्ताओं को आवेदन प्रक्रिया में आसानी होती है।

4. मुकुट फिनवेस्ट के साथ साझेदारी: ज़ीरोपे ने ऋण प्रदान करने के लिए दिल्ली स्थित नॉन-बैंकिंग वित्तीय कंपनी मुकुट फिनवेस्ट के साथ साझेदारी की है। यह साझेदारी वित्तीय प्रक्रियाओं को विश्वसनीय और वैध बनाती है।

5. सीधी भुगतान प्रक्रिया: ज़ीरोपे ऋण स्वीकृत होने के बाद, उपभोक्ताओं की ओर से चुने गए अस्पताल को सीधे ऋण राशि का भुगतान करता है। यह प्रक्रिया उपभोक्ताओं के लिए वित्तीय लेन-देन को और अधिक सुविधाजनक और सरल बनाती है।

बाजार में ज़ीरोपे के प्रतिस्पर्धी

ज़ीरोपे फिनटेक और मेडिकल फाइनेंसिंग क्षेत्र में कई प्रतिस्पर्धियों के साथ मुकाबला कर रहा है। इस क्षेत्र में कुछ प्रमुख प्रतिस्पर्धी निम्नलिखित हैं:

  1. Arogya Finance – यह कंपनी भारत में मेडिकल आपातकाल के लिए वित्तीय सेवाएँ प्रदान करती है, और उपभोक्ताओं को बिना किसी जमानत के ऋण उपलब्ध कराती है।
  2. Bajaj Finserv Health EMI Card – बजाज फिनसर्व का हेल्थ ईएमआई कार्ड मरीजों को चिकित्सा खर्चों को किस्तों में भुगतान करने की सुविधा प्रदान करता है। यह कार्ड कई अस्पतालों और क्लिनिकों में मान्य है।
  3. Capital Float – यह डिजिटल फाइनेंस कंपनी विभिन्न प्रकार के ऋण विकल्प प्रदान करती है, जिसमें मेडिकल ऋण भी शामिल है।
  4. CASHe – CASHe एक डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म है जो त्वरित ऋण समाधान प्रदान करता है, और यह मेडिकल इमरजेंसी के लिए भी वित्तीय सहायता देता है।
  5. Fibe (पूर्व में EarlySalary) – यह ऐप-आधारित ऋण देने वाली सेवा है जो त्वरित निजी ऋण उपलब्ध कराती है, जिसमें मेडिकल ऋण विकल्प भी शामिल है।
  6. Mykare Health – माइकेयर हेल्थ एक अन्य स्टार्टअप है जो मेडिकल वित्तपोषण विकल्प प्रदान करता है, जो मरीजों को उनकी चिकित्सा जरूरतों के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करता है।

ज़ीरोपे के भविष्य की संभावनाएं काफी सकारात्मक प्रतीत होती हैं, विशेष रूप से भारत में बढ़ते डिजिटल वित्तीय सेवाओं और हेल्थकेयर फाइनेंसिंग के क्षेत्र में। निम्नलिखित कारणों से इसकी वृद्धि और विस्तार की अपार संभावनाएं हैं:

  1. बढ़ती स्वास्थ्य चिंताएं और मेडिकल खर्च: भारत में चिकित्सा खर्चों में निरंतर वृद्धि और स्वास्थ्य बीमा की कम पहुंच के कारण, अधिकांश लोगों के लिए चिकित्सा ऋण की आवश्यकता बढ़ रही है। ज़ीरोपे इस आवश्यकता को पूरा करने का एक कारगर समाधान प्रदान करता है।
  2. डिजिटल अपनाने में वृद्धि: डिजिटल पेमेंट्स और ऑनलाइन बैंकिंग के बढ़ते चलन के साथ, ज़ीरोपे जैसे ऐप्स को अपनाने की दर में वृद्धि होने की संभावना है, जो कि तेजी से और सुरक्षित ऋण समाधान प्रदान करते हैं।
  3. नियामक परिवर्तन और सरकारी सहायता: भारत सरकार द्वारा फिनटेक और हेल्थकेयर सेक्टर को प्रोत्साहन देने के लिए नियमों में ढील और वित्तीय सहायता की संभावना ज़ीरोपे के विस्तार को बढ़ावा दे सकती है।
  4. तकनीकी उन्नति: आधुनिक तकनीकों का उपयोग करते हुए ज़ीरोपे अपनी सेवाओं को और भी अधिक सुविधाजनक और उपयोगकर्ता के अनुकूल बना सकता है, जिससे इसकी मार्केट पहुंच और ग्राहक संतुष्टि में वृद्धि होगी।
  5. भागीदारी और सहयोग: अधिक अस्पतालों और वित्तीय संस्थानों के साथ भागीदारी करके, ज़ीरोपे अपनी पहुंच और विश्वसनीयता को बढ़ा सकता है।

ये सभी कारक मिलकर ज़ीरोपे के लिए एक उज्ज्वल भविष्य की संभावना बनाते हैं, जिससे यह भारतीय मेडिकल फाइनेंसिंग बाजार में एक प्रमुख खिलाड़ी बन सकता है।

ज़ीरोपे ने स्वास्थ्य वित्तपोषण के क्षेत्र में एक नवीन पहल की है, जो भारत में मेडिकल आपातकाल के दौरान त्वरित और सुलभ वित्तीय सहायता प्रदान करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इसके अनूठे विशेषताएं और सेवाएं, जैसे कि तत्काल पूर्व-अनुमोदित ऋण, साझेदार अस्पतालों में उपलब्धता, और मुकुट फिनवेस्ट के साथ साझेदारी, इसे उपभोक्ताओं के लिए अत्यंत आकर्षक बनाते हैं। ज़ीरोपे की ये विशेषताएं न केवल इसे अपने प्रतिस्पर्धियों से अलग करती हैं, बल्कि भारतीय स्वास्थ्य वित्तपोषण बाजार में इसकी मजबूत स्थिति बनाने में मदद करती हैं। आने वाले समय में, ज़ीरोपे की पहल स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच को और भी अधिक सुगम बना सकती है, जिससे अधिक से अधिक लोगों को समय पर और उचित मेडिकल सहायता प्राप्त हो सके।

Leave a Comment