BJP Kya H बीजेपी क्या है? बीजेपी का फुल फॉर्म क्या होता है? #Storiesviewforall.com

Table of Contents

BJP Kya H बीजेपी क्या है? बीजेपी का फुल फॉर्म क्या होता है? #Storiesviewforall.com

यदि बीजेपी की बात की जाए, तो आज के समय में भारत की सबसे बड़ी पार्टियों में से बीजेपी एक पार्टी है। इसका इतिहास बहुत ज्यादा पुराना नहीं है। परंतु लोगों को इसके बारे में कोई भी जानकारी नहीं है। आज की नई पीढ़ी यदि जानना चाहे, कि बीजेपी का उदय कैसे हुआ है? तो उन्हें यह बात जानने के लिए हमारे द्वारा जारी किया गया यह लेख पढ़ना होगा। पहले के भी बहुत कम लोग जो राजनीति में दिलचस्पी रखते हैं। उन्हें ही शायद बीजेपी के बारे में कुछ जानकारी होगी। इसीलिए हमारे द्वारा आप लोगों को BJP ki full form kya hoti hai? इसके बारे में इस लेख के अंतर्गत बताया गया है।

बीजेपी सबसे ताकतवर और बड़ी राजनीतिक पार्टी बन चुकी है। इसीलिए आज के जो युवा राजनीति में दिलचस्पी रखते हैं। उन्हें पहले के पार्टियों के बारे में जानकारी प्राप्त करनी होती है। परंतु हमारे देश में ऐसे बहुत कम लोग होते हैं। जिन्हें इनके इतिहास की जानकारी होती है। इसीलिए हमारे द्वारा आज आपको इस लेख के अंतर्गत HISTORY OF BJP? FULL FORM OF BJP? के बारे में बताने जा रहे हैं। ताकि आज के युवाओं को अपने इतिहास के बारे में संपूर्ण सही जानकारी प्राप्त हो सके। यदि आप भी उन्हीं में से हैं। तो आपको हमारा यह लेख अंत तक अवश्य पढ़ना होगा।

BJP Kya H बीजेपी क्या है? बीजेपी का फुल फॉर्म क्या होता है? #Storiesviewforall.com

बीजेपी की फुल फॉर्म क्या होती है? (What is the full form of BJP?)

बीजेपी भारत की एक सबसे बड़ी और ताकतवर राजनीतिक पार्टी है। बीजेपी अपने आप में एक निमोनिक होता है। बीजेपी की फुल फॉर्म “भारतीय जनता पार्टी” होती है। जिसको इंग्लिश में “Indians people party” के नाम से जाना जाता है। भारत में बहुत सी पार्टियां है। परंतु भारत की सबसे महान पार्टियों में बीजेपी का नाम भी आता है।

इस पार्टी का मुख्य तात्पर्य संपूर्ण मानवता और सामाजिक परंपरागत के माध्यम से अपनी सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का मजबूती से पालन करने से होता है। भारत में उपस्थित क्रियात्मक संगठनों के समूह का बीजेपी एक सबसे महत्वपूर्ण भाग अर्थात सदस्य माना जाता है। यही कारण है कि बीजेपी को “संघ परिवार” के नाम से भी जाना जाता है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रथम अध्यक्ष श्यामा प्रसाद मुखर्जी को माना जाता है। इसके बारे में हमारे द्वारा आपको नीचे संपूर्ण इतिहास की जानकारी दी गई है। जिसमें आपको यह पता चलेगा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी को इस पार्टी का प्रथम अध्यक्ष क्यों माना जाता है? बीजेपी के द्वारा हर साल अन्य पार्टियों के खिलाफ खड़े होकर चुनाव लड़े जाते हैं। हालांकि भारत की जनता को पूर्ण अधिकार है, कि वह किसी भी पार्टी के नेता को अपना राजा अर्थात प्रधानमंत्री चुन सकती है। इसीलिए शायद भारत एक लोकतांत्रिक देश है। भारतीय जनता पार्टी की स्थापना कैसे हुई? इसके बारे में हमारे द्वारा आपको नीचे बताया गया है।

जनसंघ पार्टी क्या है? (What is the Jan Sangh Party?)

भारतीय जनता पार्टी के बारे में When was the BJP Established? यह जानने से पहले हमारे द्वारा आपको Jan sangh party kya hoti hai? इसके बारे में बताया जा रहा है क्योंकि आप भारतीय जनता पार्टी के बारे में सभी समझ सकते हैं। जब आपको जनसंघ पार्टी के बारे में जानकारी होगी। 1951 में भारतीय जनसंघ पार्टी की स्थापना डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के द्वारा धर्मनिरपेक्ष राजनीति और राष्ट्रवाद के सहयोग से की गई थी। जनसंघ पार्टी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का भाग माना जाता था। जिसे हम सब आर. एस. एस. के नाम से जानते हैं।

इसको सीधा संकेत भारत की हिन्दू संस्कृति पहचानको सुरक्षित रखने से होता है। जनसंघ पार्टी के द्वारा हमेशा कांग्रेस पार्टी तथा प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की मुस्लिम पार्टी तथा पाकिस्तान को लेकर हमेशा हिंदुस्तान के साथ होने वाले पक्षपात की नीतियों पर अंकुश लगाया जाता था। परंतु पहले जनसंघ पार्टी उभार में नहीं थी। तथा लोग कांग्रेस पार्टी को अधिक तवज्जो दिया करते थे। जन संघ पार्टी के चुनाव चिन्ह की बात की जाए, तो जनसंघ पार्टी का चुनाव चिन्ह “दीपक” था

बीजेपी की स्थापना कब और कैसे हुई? (When was the BJP Established?)

जनसंघ पार्टी के बारे में जानकारी प्राप्त करने के बाद हमारे द्वारा आपको भारतीय जनता पार्टी की स्थापना कब और कैसे हुई? इसके बारे में यह जानकारी दी जा रही है। 1977 में जनसंघ पार्टी का विलय  जनता पार्टी ने कर दिया गया। इसी जनता पार्टी के द्वारा कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़े गए। जिसके अंतर्गत जनता पार्टी के द्वारा जीत भी हासिल की गई।

जनता पार्टी की तरफ से मोरारजी देसाई को देश का प्रधानमंत्री बना दिया गया। कुछ समय के पश्चात सभी दलों के अंतर्गत पद को लेकर विवाद होने शुरू हो गए। इसके तत्पश्चात मोरारजी देसाई ने ढाई साल के अंदर ही प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया।

3 साल बाद जनता पार्टी के सदस्यों के द्वारा ही दोबारा मिलकर भारतीय जनता पार्टी का निर्माण किया गया। भारतीय जनता पार्टी की स्थापना मुख्य रूप से 6 अप्रैल 1980 में देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई तथा लालकृष्ण आडवाणी के द्वारा की गई थी। तब से लेकर आज तक इस पार्टी के द्वारा चुनाव लड़े जाते हैं। प्राविधिक तौर से जनता पार्टी का दूसरा रूप भारतीय जनता पार्टी को ही कहा जाता है। भारतीय जनता पार्टी के प्रथम राष्ट्रीय अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेई को बनाया गया था।

भारतीय जनता पार्टी का इतिहास? (History of BJP?)

भारतीय जनता पार्टी की स्थापना कब की गई थी? इसके बारे में हमारे द्वारा आपको ऊपर बता दिया गया है। परंतु History of Bharatiya Janata Party के बारे में भी आप थोड़ी बातें जान लें। जिसके बारे में हमारे द्वारा आपके यहां बताया गया है। भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा हिंदुत्व राष्ट्रीयवाद के इर्द गिर्द घूमने वाली है।

भारतीय जनता पार्टी के द्वारा 1984 में चुनाव लड़ा गया था। तो केवल दो ही सीटें इसके हिस्से में आई थी। परंतु धीरे-धीरे पार्टी को मजबूत किया गया। यही कारण है कि 1992 में राम मंदिर आंदोलन के बाद भाजपा के पैर पूरी तरह से पसंद है। इस प्रकार भारतीय जनता पार्टी आज एक शक्तिशाली और ताकतवर राजनीतिक पार्टी है।

बीजेपी के द्वारा जो राम मंदिर आंदोलन की शुरुआत की गई थी। उसका नतीजा चुनाव में अवश्य देखने को मिला क्योंकि तब बीजेपी के द्वारा 303 सीटों की सरकार बनाई गई। जो एक बहुत मजबूत सरकार थी। इसके पश्चात यह सरकार पूरे 5 साल तक चली थी। इसके बाद भाजपा को 2004 से 2009 तक के चुनावों में पराजय का सामना करना पड़ा। परंतु 2014 में भाजपा को फिर से पूर्ण बहुमत मिला। इसके बाद भाजपा को 2019 मे 303 सीटें प्राप्त हुई। जिसकी सरकार आज तक मौजूद है।

भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह क्या होता है? (What is the Election Sign of Bhartiya Janta Party?)

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया था कि जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह “दीपक” था  इसी प्रकार भारतीय जनता पार्टी का भी चुनाव चिन्ह निर्धारित किया गया था। भारत के निर्वाचन आयोग के द्वारा भारतीय जनता पार्टी को चुनाव चिन्ह के रूप में “कमल का फूल” अनुमोदित किया था। कमल का फूल भारत के राष्ट्रीय पुष्प के नाम से भी प्रसिद्ध है।

इसलिए बीजेपी के चुनाव चिन्ह के बहुत से मुख्य चित्र बनाए गए हैं। सर्वप्रथम राष्ट्रीय सम्मान को प्रदर्शित करने हेतु इस चुनाव चिन्ह का प्रयोग किया गया। इसके बाद राजनीतिक विचारशैली सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के रूप में व्याख्यान किया गया। बीजेपी के चुनाव चिन्ह कमल के फूल का रंग भगवा है। इसीलिए भगवा रंग को बीजेपी की पहचान माना जाता है।

बीजेपी की फुल फॉर्म क्या होती है? इससे संबंधित प्रश्न व उत्तर (FAQs)

Q:-1. बीजेपी क्या होती है?

Ans:-1. बीजेपी भारत की सबसे महान, ताकतवर राजनीतिक पार्टी में से एक है। यह भारत में राजनीति का एक प्रमुख दल है। जिसकी स्थापना 6 अप्रैल 1980 में हुई थी। यह हिंदू विचारधारा पर आधारित पार्टी है।

Q:-2. जनसंघ पार्टी क्या है?

Ans:-2. 1951 में जनसंघ पार्टी की स्थापना डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के द्वारा की गई थी। जिसे 1977 में जनता पार्टी के अंदर विलय कर दिया गया था। जनता पार्टी के ही सदस्य के द्वारा बाद में भारतीय जनता पार्टी की स्थापना की गई। इसीलिए कहा जाता है, भारतीय जनता पार्टी जनसंघ पार्टी का दूसरा रुप है

Q:-3. भारतीय जनता पार्टी की स्थापना किसके द्वारा की गई थी?

Ans:-3. भारतीय जनता पार्टी की स्थापना प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई तथा लालकृष्ण आडवाणी के द्वारा की गई थी। तब से लेकर आज तक भारतीय जनता पार्टी के सफल राजनैतिक पार्टी है।

Q:-4. बीजेपी की फुल फॉर्म क्या होती है?

Ans:-4. बीजेपी की फुल फॉर्म भारतीय जनता पार्टी होती है। इसी को संक्षेप में भाजपा के नाम से जाना जाता है। तथा इंग्लिश में इसे indian people party के नाम से भी जानते हैं। इसीलिए भाजपा के विभिन्न नाम होते है।

Q:-5. भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह क्या है?

Ans:-5. भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह कमल का पुष्प होता है। कमल का पुरुष हमारे देश का राष्ट्रीय पुष्प भी है। इसीलिए भारतीय जनता पार्टी चुनाव चिन्ह के बहुत से मुख्य चित्र हैं।

Q:-6.  भारतीय जनता पार्टी के पहले प्रधानमंत्री कौन थे?

Ans:-6. भारतीय जनता पार्टी के तरफ से भारत के पहले प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई को बनाया गया था। जो 16 मई 1966 में भारत के प्रधानमंत्री बने थे। परंतु 13 दिन के अंदर ही इनकी सरकार गिर गई थी।

Q:-7. भारतीय जनता पार्टी का इतिहास क्या है?

 

Leave a Comment