NDA KI Tyari kaise kre, NDA की तैयारी कैसे करे: एनडीए परीक्षा एवं स्टडी टिप्स #Storiesviewforall

एनडीए युवाओं के लिए  कैरियर की नजर से सर्वोत्तम विकल्प होता है. क्योंकि, NDA की तैयारी कैसे करे में ज़ज़्बा, जुनून और साहस की आवश्यकता होती है जो युवाओं में भरपूर मात्रा में होती है.  बहुत सारे विद्यार्थी 10वी पूरा करने के बाद NDA में जाने की जिज्ञासा दिखाते हैं जो दर्शाता है देश की सेवा NDA ज्वाइन करके किया जा सकता है और साथ ही बेहतर कैरियर विकल्प भी बनाया जा सकता है.

nda ki taiyari kaise kare,girls nda ki taiyari kaise kare,nda ki preparation kaise kare,nda army wing ki taiyari kaise kare,nda exam kaise crack kare,nda ki taiyari kaise kare starting se,nda exam me ache marks kaise laye,nda exam pattern,nda preparation tips,nda preparation books,how to prepare for nda,nda preparation syllabus,how to prepare for nda after 10th,how to crack the nda exam in hindi,how to crack nda exam,how to prepare for nda from class 11

NDA KI Tyari kaise kre
                                                     NDA KI Tyari kaise kre

राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी (NDA) हर विद्यार्थी को 3 अवसर प्रदान करता है ताकि वह देश हित के लिए समर्पण, सेवा और सम्मान वाला अधिकारी बन देश की सेवा में अपना योगदान प्रदान कर सकें. इस पोस्ट के माध्यम से कुछ महत्वपूर्ण सुचना एवं एग्जाम टिप्स निचे दिया जाएगा, जो विद्यार्थी के लिए एक परम ज्ञान सिद्ध होगा.NDA KI Tyari kaise kre

NDA KI Tyari kaise kre
                      NDA KI Tyari kaise kre

भारत के किसी भी वर्ग के विद्यार्थी जिसकी उम्र सीमा 16.6 वर्ष से 19 वर्ष  हो, वह राष्ट्रीय रक्षा अकादमी ज्वाइन कर सकता है और अपने बेहतर भविष्य का नीव आसानी से तैयार कर सकता है. एनडीए एग्जाम के द्वारा भारत के तीनों सेनाओं में से किसी एक में अपना वर्चस्व एक अधिकारी बनकर कायम किया जा सकता है.

NDA क्या है और NDA Ki Taiyari Kaise Karen

भारतीय शिक्षा अकैडमी भारतीय सशस्त्र सेना की एक प्रमुख संस्था है जिसमें तीनों सेनाओं द्वारा उम्मीदवार को प्रशिक्षित किया जाता है.  नौसेना, वायु सेना और थल सेना के कैंडीडेट्स को देश की सुरक्षा के लिए फिजिकल तैयारी और शिक्षा प्रदान किया जाता है.

भारतीय सशस्त्र सेना के मुख्य संस्थान महाराष्ट्र में पुणे के करीब खड़कवासला में स्थित है जिसकी स्थापना ब्रिटिश राज्य के समय में किया गया था जिसका मुख्य उद्देश्य भारतीय सेना को आधुनिक स्तर पर ले जाना था.

यह संस्था एनडीए युवाओं को ट्रेनिंग देता है जो आर्म्ड कोशिश को अपने कैरियर के लिए पसंद करते हैं.

इस संस्था के द्वारा विश्व में युद्ध के चुनौतियों से लड़ने के लिए उम्मीदवारों को आधुनिक तकनीक के साथ तैयार किया जाता है जिसमें उन्हें मानसिकता, नैतिकता और सरीरिक विशेषताओं पर विशेष रूप से तैयार किया जाता है.

इंडिया के एग्जाम यूनियन  पुलिस सर्विस कमीशन द्वारा डिज़ाइन किया जाता है जो प्रत्येक वर्ष में दो बार होता है जिसमे 3 परम वीर चक्र और 9 अशोक चक्र शामिल है.

इस एग्जाम का मुख्य उद्देश्य भारतीय वायुसेना, भारतीय जल सेना एवं भारतीय थल सेना को उपयुक्त उम्मीदवार प्रदान करना होता है जो भारतीय सशस्त्र सेना के लिए पर्याप्त हो.

NDA का फुल फॉर्म

भारतीय सेना में NDA का महत्व कितना है वास्तव में यह कौन नही जनता है. अगर एक बार सिलेक्शन हो जाए तो सर्वप्रथम भारत माँ की सेवा करने का अवशर मिलता है दूसरा करियर को एक नई पहचान. NDA सबसे ज्यादा अपने फुल फॉर्म से प्रचलित है जो इस प्रकार है.

एनडीए का वास्तिवक हिंदी फुल फॉर्म “ राष्ट्रीय रक्षा अकादमी” तथा अंग्रेजी में “NATIONAL DEFENCE ACADEMY” होता है. इसे UPSC द्वारा व्यवस्थित और निरस्त किया जाता है. यह संस्था विशेषकर तीनों सेनावो जैसे थल सेना, वायु सेना एवं नौसेना के लिए एक योग्य उम्मीदवार ढूढ़ने का कार्य करती है.

  • अंग्रेजी में NDA = NATIONAL DEFENCE ACADEMY
  • हिंदी में फुल फॉर्म NDA = राष्ट्रीय रक्षा अकादमी

NDA के लिए योग्यता

नेशनल डिफेंस अकादेमी ज्वाइन करने के लिए कैंडिडेट को मैथ्स स्ट्रीम से 12वीं पास करना अनिवार्य होता है.  55 परसेंट से अधिक मार्क्स वाले उम्मीदवार एनडीए एग्जाम फॉर्म भरने के लिए योग्य होते हैं. राष्ट्रीय रक्षा अकादमी प्रतियोगिता परीक्षा फॉर्म प्रत्येक वर्ष जून और दिसंबर माह में निकलता है.

एनडीए एग्जाम फॉर्म यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) के ऑफिशियल वेबसाइट से ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है. ऑनलाइन एनडीए फॉर्म की सभी कंट्रोल यूपीएससी के द्वारा कंट्रोल किया जाता है इसलिए एनडीए का फॉर्म यहां से सबमिट किया जाता है.

एक बार एनडीए की इंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद उम्मीदवार को अन्य एंट्रेंस  एग्जाम के लिए बुलाया जाता है, जैसे: रिटेन एग्जाम, फिजिकल टेस्ट, ग्रुप डिस्कशन आदि पास करना आवश्यक होता है.  एग्जाम के आधार पर आपका पोस्ट निर्धारित किया जाता है कि एनडीए के कौन सी सेना में हो सकती है.

NDA के लिए एजुकेशनल योग्यता

भारतीय रक्षा अकादमी  एग्जाम में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास आउट होना अनिवार्य है जिसमें मुख्य सब्जेक्ट मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री  आदि शामिल हो, तो आप इस एग्जाम के लिए योग्य है.

  • 12वी पास होना अनिवार्य है.
  • स्ट्रीम- साइंस
  • सब्जेक्ट- मैथ्स,फिजिक्स, केमिस्ट्री
  • 12वी रिजल्ट मार्क्स- 55% से अधिक अनिवार्य है.
  • विषय के अनुशार अलग-अलग पोस्ट अवेलेबल होता है.

NDA के उम्र (Age) सीमा (Limit)

एनडीए एग्जाम खासकर नौजवानों के लिए ही डिजाइन किया जाता है जिसमें उनकी उम्र सीमा 16.6 वर्ष से लेकर  19 वर्ष तक होता है. जिसने उम्र सीमा के साथ साथ शारीरिक एवं मानसिक स्थिति का भी ध्यान रखा जाता है.

उम्र सीमा से संबंधित संपूर्ण जानकारी यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के ऑफिशियल वेबसाइट से प्राप्त किया जा सकता है.  किसी भी संदेह की स्थिति में NDA की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट अवश्य करें.

  • उम्र सीमा – 16.6 वर्ष से लेकर  19 वर्ष तक
  • मानसिक और शारीरिक स्थिति टेस्ट

NDA के लिए शारीरिक दक्षता/योग्यता

एनडीए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद उम्मीदवार के  शारीरिक और मानसिक स्थिति का परीक्षा होता है. यह परीक्षा उम्मीदवार केसरी कर मानसिक स्थिति का पता लगाने के लिए किया जाता है क्योंकि शारीरिक रूप से तंदुरुस्त होना भारतीय सशस्त्र सेना के लिए आवश्यक होता है.

साथ ही साथ उम्मीदवार की ऊंचाई एवं वजन का भी आकलन किया जाता है. ऊंचाई और वजन की प्रक्रिया तीनों सेनाओं में अलग-अलग होता है जिसे नीचे प्रदर्शित किया गया है.

  • आर्मी के लिए उचाई- 152-183 सेमी एवं वजन 42.5 Kg से 66.5 Kg
  • एयर फ़ोर्स के लिए उचाई- 152-183 सेमी एवं वजन 42.5 Kg से 66.5 Kg
  • भारतीय नेवी के लिए उचाई 152-183 सेमी एवं वजन 44 Kg से 67 Kg
  • शारीरिक दोष या कम वजन नहीं होना चाहिए
  • शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य

NDA प्रशिक्षण

सभी कैंडिडेट्स जो सफलतापूर्वक इस अभियान  को पूरा करते हैं उन्हें सशस्त्र बलों में अधिकारियों के रूप में चयनित किया जाता है. परिणामस्वरूप सैन्य नेतृत्व और प्रशिक्षण, सिलेबस का एक अहम हिस्सा है.

अकादमिक के अलावा, उम्मीदवार के लिए संपूर्ण 6 सेमेस्टर के दौरान कठोर शारीरिक प्रशिक्षण अनिवार्य है। लघु शस्त्र प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है.

इसके अलावा, कैडेटों को बाहरी गतिविधियों के विकल्पों का भी चुनाव करना आवश्यक होता है जिसमें पैरा ग्लाइडिंग, नौकायन, जलयात्रा, तलवारबाजी, घुड़सवारी, मार्शल आर्ट, शूटिंग, स्कीइंग, आकाश डाइविंग, रॉक क्लाइम्बिंग, आदि शामिल होते हैं.

NDA का सिलेबस

एनडीए का एंट्रेंस एग्जाम दो बार में पूर्ण किया जाता है पहला पेपर मैथमेटिक्स और दूसरा जनरल एबिलिटी का होता है. पहला पेपर 11वीं और 12वीं  पर आधारित होता है, अधिकांश सवाल 11वीं के टॉपिक से पूछा जाता है. जबकि दूसरा पेपर अंग्रेजी और जनरल अवेयरनेस का होता है जो मुख्य दो भागों में Part 1 और Part 2 बटा हुआ होता है.

पहला पेपर- Mathematics  Syllabus

  • Integral Calculus
  • Matrices
  • Determinants
  • Differential Equation
  • Vector Algebra (Cross and Dot Vector)
  • Statistics
  • Algebra
  • Trigonometry
  • Analytical Geometry 2D and 3D
  • Differential Calculus
  • Probability

Part 1&2 Paper (English & General Ability)

NDA English Syllabus

  • Spelling Error Correction
  • Grammar and Usage
  • Vocabulary
  • Comprehension and More

General Ability

  • Physics
  • Chemistry
  • Current events
  • General science
  • Social Studies
  • Geography
  • Indian History
  • Important Days
  • Indian constitution
  • General Events and More

NDA की तैयारी कैसे करे

एग्जाम चाहे कोई भी हो मुश्किल नहीं होता पर आसान भी नहीं होता है. इसलिए  शायद कहा गया है किस सफल होने के लिए तीन र्गुण होना हर इंसान में जरूरी है.  परिश्रम करने की क्षमता, हौसला, और कभी न टूटने वाला विश्वास इसी से हर काम संभव है.

एनडीए एग्जाम क्लियर करने के कुछ विशेष टिप्स जो आपको नई ऊर्जा प्रदान करेगी.

  • बोर्ड एग्जाम के बाद NDA की तैयारी शुरू कर दे.
  • मैथ्स के सारे सवालों को सॉल्व करने के लिए आप NCERT की किताबों को ध्यान पूर्वक अध्ययन करे.
  • 11वी और 12वी के maths सिलेबस पर विशेष ध्यान दे.
  • NCERT के प्रसिद्ध बुक से पढ़ाई करे जैसे आर डी शर्मा,H.C.Verma आदि.
  • ग्रुप डिस्कशन करे
  • टाइम टेबल सुनिश्चित करे
  • शारीरिक योग्यता पर विशेष ध्यान दे
  • पिछले बार पूछे गए पेपर हल करे, जितना संभव हो.
  • सामान्य ज्ञान और करंट अफेयर्स पर अपना पकड़ मजबूत करे
  • अंग्रेजी की तैयारी नियम के अनुसार करे

1. सामान्य ज्ञान और अंग्रेजी विषय पर ध्यान दें

एनडीए परीक्षा को पास करने के लिए अंग्रेजी में प्रवीणता हासिल करना आवश्यक है. आपकी अंग्रेजी न केवल लिखित परीक्षा में परखी जाती है, बल्कि अगर आपकी अंग्रेजी में प्रवाह अच्छा है, तो यह साक्षात्कार के समय चयनकर्ताओं पर भी अच्छा प्रभाव छोड़ सकती है.

चूंकि सामान्य ज्ञान सिलेबस का हिस्सा है इसलिए इसे अच्छी तरह से तैयार करें. आप समाचार पत्रों, पत्रिकाओं को पढ़कर अपने Gk के हिस्से को मजबूत कर सकते हैं.

2. Study Material

सही किताबों से NDA की तैयारी बहुत जरूरी है. क्योंकि, बाजार बड़ी संख्या में बुक स्टॉक से भरा है लेकिन हर किताब Nda एग्जाम के लायक हो, यह संभव नहीं है. इसलिए, संपूर्ण विश्लेषण के बाद, या पाने शिक्षक, अभिभावक आदि परामर्श कर book के साथ nda की तैयारी शुरू करे.

3. पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को हल करें

तैयारी को सही दिशा में करना बहुत जरूरी है. पिछले वर्ष के प्रश्नों को हल करने से आपकी गति में वृद्धि होगी और साथ ही आपको एनडीए परीक्षा पैटर्न और परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों के कठिनाई स्तर के बारे में भी पता चलेगा. इससे nda की तैयारी करने में सहयता प्राप्त होगा और सिलेबस का भी ध्यान रहेगा.

4. Revision करे

सिलेबस की रिवीजन सफलता की कुंजी है. उम्मीदवारों को हमेशा सलाह दी जाती है कि वे छोटे नोट्स बनाएं और उन्हें नियमित आधार पर संशोधित करें. इससे उम्मीदवारों को इसे लंबे समय तक पढ़े हुए टॉपिक याद रखने में मदद मिलेगी.

अंत में अनावश्यक विषयों का अध्ययन न करें. इससे आप वह भी भूल जाएंगे जो आपने पहले पढ़ा है. परीक्षा से पहले अंतिम सप्ताह में, उन सभी विषयों और टॉपिक का रिवीजन करें जिनका आपने ठीक से अध्ययन किया है. इससे आपको परीक्षा में स्कोर करने में मदद मिलेगी.

मुझे उम्मीद है कि आप सभी लोगों को हमारा यह आर्टिकल जरूरी पसंद आया होगा। यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले और आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद।

HOME

यह भी  देखिये :