IAS दिव्या तंवर का जीवन परिचय, दिव्या तंवर आईएएस का जीवन परिचय (Divya Tanwar IAS Biography In Hindi)

IAS दिव्या तंवर का जीवन परिचय, दिव्या तंवर आईएएस का जीवन परिचय (Divya Tanwar IAS Biography In Hindi)

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सर्विस परीक्षा की हर साल लाखों युवाओं तैयारी करते है. यह परीक्षा सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है. इस एग्जाम को पास करना कई युवाओं का सपना होता है और यह सपना जब सच हो जाता है तो उनकी जीत की कहानी लाखों लोगो का एक प्रेरणा का जरिया बन जाता है. कुछ लोगो की कहानियाँ इतनी प्रेरणा दायक होती है कि उनके सामने घर संघर्ष और चुनौती फीकी पड़ जाये.

तभी तो कहते है न “जो लोग अपनी किस्मत से ज्यादा अपनी मेहनत पर भरोसा करते है, वो एक ना एक दिन सितारों की तरह जरुर चमकते है” हम बात कर रहे है एक गरीब परिवार बेटी दिव्या तंवर की, जिन्होंने सिमित संसाधन में पढाई कर यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2021 में 438 रैंक प्राप्त की.और इसके बाद भी नहीं रुके उन्होंने लगातार प्रयासों से दूसरी बार यूपीएससी सीएसई 2022 में 105वीं रैंक हासिल कर आईपीएस से आईएएस अधिकारी बानी। तो आज के इस लेख में हम आपको दिव्या तंवर आईपीएस का जीवन परिचय (Divya Tanwar IPS Biography In Hindi) के बारें में विस्तृत जानकारी देने वाले है.

दिव्या तंवर आईएएस का जीवन परिचय | Divya Tanwar IAS Biography In Hindi

दिव्या तंवर आईएएस का जीवन परिचय (Divya Tanwar IAS Biography In Hindi)

नाम (Name) दिव्या तंवर (Divya Tanwar)
जन्म तारीख (Date of birth) 1997
जन्म स्थान (Place) निंबी, महेंद्रगढ़, हरियाणा
उम्र (Age) 23 साल
धर्म (Religion) हिंदू धर्म
जाति (Cast) राजपूत
समुदाय (Community) ईडब्ल्यूएस (आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग)
पेशा  (Profession) आईएएस अधिकारी
प्रयास (Attempt) 2 बार
सफल 2 बार
कौन है दिव्या तंवर (Who is Divya Tanwar)
दिव्या तंवर हरियाणा के महेंद्रगढ़ की रहने वाली है. जवाहर नवोदय विद्यालय से स्कूली शिक्षा और सरकारी पीजी कॉलेज, महेंद्रगढ़ से बीएससी में स्नातक किया. इसके बाद सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी में जुट गई और पहले ही प्रयास में यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2021 में 438 रैंक प्राप्त की। इसी के साथ यह आईपीएस अधिकारी बानी और मणिपुर कैडर अलॉट हुआ। इसके बाद भी इन्होने निरंतर पढाई जारी रखी और यूपीएससी सीएसई  2022 में एक बार फिर सफल होकर 105 रैंक हासिल की है।

आईपीएस दिव्या तंवर का जन्म, परिवार (IPS Divya Tanwar Birth, Family)

दिव्या का जन्म हरियाणा के महेंद्रगढ़ गाँव निंबी में साल 1996 में एक राजपूत परिवार में हुआ. दिव्या बेहद साधारण परिवार और किसान परिवार से ताल्लुक रखती है. उनके पिता का बीमारी के चलते साल 2011 में निधन हो गया. अब परिवार मे दिव्या की माँ और छोटा भाई और बहन है. पिताजी के इस तरह चले जाने से परिवार का पूरा बोझ माँ और दिव्या के कंधो पर आ गया. माँ दुसरो के खेतों में काम किया करती थी और घर-घर जाकर झाड़ू पोछा लगाया करती थी. माँ पर दिव्या की पढाई का अतिरिक्त बोझ ना पड़े इसलिए दिव्या भी बच्चों को पढ़ाया करती थी.

दिव्या तंवर का यूपीएससी सफ़र

दिव्या ने बीएससी उत्तीर्ण करने के बाद यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी में लग गई. दिव्या का यह सफ़र कई चुनौतियों से भरा हुआ रहा है. पैसो के आभाव के चलते कोचिंग का कोई सहारा नहीं लिया. सेल्फ स्टडी की बलबूते पर निर्धारित लक्ष्य प्राप्त किया. शुरुआत के दिनों में 4 से 5 घंटे पढाई की फिर धीरे-धीरे रोजाना 10 घंटे पढाई करना शुरू किया. दिव्या जिस कमरे में पढाई करती थी वो सिर्फ एक 10X10 का एक कमरा था. उसी कमरे में खाना-पीना, पढ़ना और सोना होता था. बस यही दिव्या का पुरे साल का शेड्यूल हुआ करता था.

 

Leave a Comment