संदीप माहेश्वरी का जीवन परिचय | Sandeep Maheshwari Biography in Hindi

संदीप माहेश्वरी का जीवन परिचय | Sandeep Maheshwari Biography in Hindi

संदीप माहेश्वरी का जीवन परिचय, बायोग्राफी, ताज़ा खबर, अनमोल वचन, विचार, कहानी, इनकम, सेमीनार फीस, बिज़नेस, वाइफ, उम्र, परिवार, कोट्स

संदीप माहेश्वरी युवाओं के लिए प्रेरक और आज का सबसे प्रासंगिक नाम है. भारत के शीर्ष उद्यमियों में तेजी से उभरने वाले नामों में एक नाम संदीप महेश्वरी का भी है. संदीप महेश्वरी ने ये सफलता काफी कम समय में हासिल की है. संदीप इमेजबाजार.कॉम के संस्थापक और चीफ एक्सक्यूटिव ऑफिसर हैं. इमेज बाजार भारतीय वस्तुओं और व्यक्तियों का चित्र सहेजने वाली सबसे बड़ी ऑनलाईन साइट है. इसके पोर्टल में एक लाख से भी अधिक नये मॉडलों की तस्वीरें संरक्षित है. इतना ही नहीं कई हजार कैमरामैन इस वेबपेज के साथ काम करते हैं. तीव्र बुद्धि के स्वामी संदीप को इस कार्य के लिए न सिर्फ काफी मेहनत नहीं करनी पड़ी, बल्कि उन्होंने अपने दिमाग का सही उपयोग कर इसे हासिल किया. संदीप सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि देश विदेश में काफी नाम कमा चुके हैं. संदीप युवाओं को आगे लाने के लिए, उनके भविष्य को लेकर उन्हें निराशा से बाहर निकालने के लिए कई जगह सेमिनार भी आयोजित कराते हैं. उनका ‘फ्री मोटिवेशनल लाइफ चेजिंग सेमिनार्स’ काफी प्रसिद्ध है. 34 वर्षीय संदीप अपने जीवन में कई संकटों का सामना करते हुए इस मुकाम पर पहुँचें है.

संदीप माहेश्वरी का जन्म, उम्र एवं आरंभिक जीवन (Sandeep Maheshwari Birth, Age, Early Life)

28 सितम्बर 1980 को सन्दीप महेश्वरी का जन्म दिल्ली में हुआ था. संदीप बचपन से ही बहुत कुछ कर करने के बारे में सोचते थे. वे अपने बचपन के बारे में खुलकर कभी ज्यादा बात नहीं करते हैं. उनके पिता कारोबारी थे. संदीप के पिता का एल्युमीनियम का कारोबार था. लगभग दस साल चलने के बाद ये व्यापार ठप्प हो गया. परिवार की सहायता के लिए उन्होंने मां के साथ मिलकर मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी को ज्वाइन किया, जिसमें घर में ही चीजों को बनाना और बेचना होता था. एमएलएम का काम भी ज्यादा दिन नहीं चला. पिता का कारोबार थम जाने के कारण संदीप का पूरा परिवार आर्थिक संकट से जूझने लगा. सन्दीप के पिता काफी परेशान रहते थे. इस संकट की घड़ी में संदीप के परिवार ने टूटने की अपेक्षा खुद को और ज्यादा संगठित किया. उसी समय से संदीप अपने परिवार के लिए कुछ करना चाहते थे.  इस छोटे व्यवसाय के बाद उन्होंने और भी कई काम शुरु किये, जो ज्यादा दिनों तक नहीं चले. अंत में उन्होंने परिवार चलाने के लिए  पीसीओ का काम आरंभ किया. चुंकि उस समय मोबाइल उतना नहीं था, तो ये काम कुछ दिनों के लिए अच्छा चला. उनकी मां ये काम संभालती थी.

संदीप माहेश्वरी की शिक्षा (Sandeep Maheshwari Education)

संदीप को परिवारिक और आर्थिक संकट के कारण बीच में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी. दिल्ली के करोड़ीमल कॉलेज से वे कामर्स में स्नातक कर रहे थे, और 2000 में उन्होंने फोटोग्राफी करना आरंभ किया था, और आरंभ में कई तरह से उसे पेशे के रूप में अपनाने की कोशिश की. इसी सिलसिले में कुछ मित्रों के साथ एक छोटा सा व्यवसाय भी आरंभ किया, किन्तु वे सभी असफल हो गये. किस्मत ने उनके लिए कुछ और ही चुना था.

संदीप माहेश्वरी के जीवन में बदलाव (Sandeep Maheshwari Life Changing Seminar)

संदीप माहेश्वरी  निराशा के साथ जीने लगे थे, लेकिन उसी समय एक बार उन्होंने एक मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी के सेमिनार परिचर्चा में दोस्तों के साथ हिस्सा लिया. 18 साल  के संदीप की परिपक्वता उतनी नहीं थी, उन्हें सेमिनार में कुछ समझ नही आया था, उन्होंने जो कुछ भी सुना सब उनके लिए अन्जानी सी बात थी. उस 21 साल के लड़के ने संदीप को एक बार फिर से अपनी निराशा से संघर्ष करने का हौसला दिया. इस हौसले के साथ ही संदीप को नये तरह की उद्यम आरंभ करने की प्रेरणा मिली, और यह भी कि वो अपनी तरह कई युवाओं को जीवन संघर्ष में प्रेरित कर सकते हैं. अब सन्दीप ने ठान लिया कि वह 21 साल के लड़के की तरह ही नया उद्यम आरंभ करेंगे, ये आवाज उसके अंर्तमन से आ रही थी. ये विचार आते ही वो अपने कुछ मित्रों को संग लेकर उस लडके की कम्पनी में गये पर वहाँ कुछ हाथ नहीं लगा. किसी को कंपनी ने नहीं रखा, मित्र भी उनकी खिल्ली उड़ाने लगे थे. इस असफलता ने उन्हें थोड़ी सा पीछे कर दिया पर हरा नहीं पाई. संदीप असफलताओं का मूल्यांकन करने लगे. उन्होंने अपनी गलतियों को सुधारने का उपाय सोचा और उन्हें लगा कि शायद साझेदारी पर विश्वास न करके भूल की है.  संदीप को लगने लगा कि जब तक आप संघर्ष के कटुत्कित अनुभव से नहीं गुजरते हैं, सफलता आपको नहीं मिलेगी. इसके बाद उन्होने कई और असफल प्रयास किये.

संदीप माहेश्वरी की इमेजबाजार कंपनी (Sandeep Maheshwari Imagesbazaar)

लिमका बुक में नाम दर्ज करने के बाद उनको काफी व्यवसाय मिलने लगा. इसी रेकार्ड के कारण उनके पास कई मॉडल्स और विज्ञापन कंपनियां आने लगी, और देखते ही देखते कुछ ही अवधि में उनकी कम्पनी भारत की बड़ी फोटोग्राफी एजेंसी बन गयी. पैसों की कोई कमी नहीं रही. 2006 में संदीप के दिमाग में एक नया ख्याल आया और उसी ख्याल से उपजा ऑनलाइन इमेज बाजार शेयरिंग साईट. ये देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन फोटोग्राफी की कम्पनी है. अभी उनके पास 45 देशों से लगभग 7000 से ज्यादा क्लाईंट है. अब संदीप भी शेयरिंग पर सेमिनार देते हैं और लाखों युवाओं को प्रेरित करते हैं.

संदीप माहेश्वरी के अनमोल वचन (Sandeep Maheshwari Quotes)

संदीप का मानना है कि हर किसी के अंदर उसका गुरू रहता है. सही समय पर आप उस गुरू की अनुभूति कीजिए. संदीप अब युवाओं के लिए गुरू की तरह है. लोग उनके द्वारा कहे गये शब्दों को ध्यान से सुनते है और अपने जीवन में लाने की कोशिश भी करते हैं. संदीप के जीवन का सबसे बड़ा शब्द है ‘आसान’. उनका मानना है जीवन में कुछ भी कठिन नहीं है, सभी कुछ आसान है. सिर्फ पूरी शिद्दत से आप खुद के लक्ष्य के पीछे लगे रहिए.

  • ‘यदि आपके पास चीजों का आधिक्य है तो आप उसे सिर्फ अपने लिए ही संरक्षित ना रखें,उसे जरूरतमंदों के साथ शेयर करें.’
  • सभी से सीखो पर सबका अनुसरण मत करो.
  • मनुष्य की सबसे संरचनात्मक और विनाशात्मक चीज है उसकी लालसा.
  • ना भागना है, ना रूकना है, बस चलते जाना है. पैसे की उतनी ही जरूरत है जितना गाड़ी में पेट्रोल
  • जब भी कठिनाइयों से डरो तो अपने से नीचे के लोगों को देखो.

संदीप माहेश्वरी विवेक बिंद्रा विवाद ताज़ा खबर(Sandeep Maheshwari Vivek Bindra Controversy)

हालही में संदीप माहेश्वरी जी को मशहूर बिज़नेस कोच विवेक बिंद्रा ने धमकी दी हैं जिसके कारण ये दोनों ही चर्चा में चल रहे हैं. सोशल मीडिया पर भी इस पर बवाल मचा हुआ है. दरअसल मामला यह है कि संदीप माहेश्वरी ने अपने यूट्यूब पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उनके शो पर कुछ लड़कों ने एक एमएलएम बिज़नेस के लाखों के कोर्स के पीछे के घोटाले का खुलासा किया था, लेकिन आपको बता दें कि इस वीडियो में किसी व्यक्ति विशेष का नाम नहीं लिया गया था. लेकिन इस पोस्ट के अपलोड होने के बाद संदीप पर इसे डिलीट करने के लिए काफी प्रेशर दिया जा रहा था. हालांकि संदीप ने यह वीडियो डिलीट नहीं करने के फैसला किया. जिसके बाद उन्हें विवेक बिंद्रा की ओर से धमकी दी जाने लगी. इस बात का खुलवा संदीप माहेश्वरी जी ने खुद किया उन्होंने यूट्यूब पर एक कम्युनिटी पोस्ट के जरिये यह बताया है कि विवेक बिंद्रा के लोगों ने मेरी टीम के लोगों को धमकी दी है और साथ ही संदीप के घर पर भी लोग भेजे हैं. संदीप ने यह भी कहा कि वे इन धमिकयों से नहीं डरते हैं, वे वीडियो किसी भी कीमत पर डिलीट नहीं करेंगे. इसी को लेकर दोनों के बीच विवाद चल रहा है.

Read Also

लाल कृष्ण आडवाणी का जीवन परिचय| Lal Krishna Advani Biography In Hindi

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी का जीवन परिचय | Sukhdev Singh Gogamedi Biography In हिंदी

4 thoughts on “संदीप माहेश्वरी का जीवन परिचय | Sandeep Maheshwari Biography in Hindi”

Leave a Comment